Category: Health

कर्मचारी राज्य बीमा चिकित्सालय की बदहाली

सरकार लाख दावा करले लेकिन स्वस्थ बिभाग की स्थिति आज भी जसकी तस है आज खुद कर्मचारी राज्य विमा चिकित्सालय बदहाली की आशु खुद बहा रहा है | (more…)
Share this page
swasthya Kendra Katihar

कटिहार में डेंगू का मरीज़

कटिहार के सेमापुर में डेंगु का रोगी मिलने से कटिहार में सावधानी बरती जा रही है|। डेंगू के लक्षण देखकर उसे पटना रेफर कर दिया है। कटिहार के कालीबाड़ी के डा. राजीव रंजन झा के पास गुरूवार को सेमापुर से सचिन नाम का युवक आया था। लक्षण देखते ही उसे पटना रेफर कर दिया गया| लेकिन कटिहार में सावधानी बरतने की ज़रूरत है|कृपया आसपास सफाई रखे| पानी जमा न होने दे|
Share this page
yog diwas 2016

अंतरराष्ट्रिय योग दिवस पर राजेंद्र स्टेडियम में योग

कटिहार:21 जून : अंतररास्ट्रीय योग दिवस अपर आज कटिहार के राजेंद्र स्टेडियम में योग कार्यक्रम का आयोजन हुआ| कटिहार के गणमान्य लोग भी इसमें शरीक हुए|पतंजलि योगपीठ द्वारा इस योग शिविर का आयोजन किया गया था|
Share this page
Polio Katihar

कटिहार में मिली पोलियो से ग्रसित बच्ची

कटिहार में पोलियों से ग्रसित बच्ची मिलने का मामला सामने आया है । बरारी प्रखंड के रौनिया गौरीडीह मुशहर टोली में एक पांच बर्षीय बच्ची सेखी कुमारी विकलांगता की शिकार हो गयी है।|बच्ची की तकलीफ देखकर उसे बरारी रेफरल अस्पताल से कटिहार रेफर कर दिया गया। कटिहार में इलाज के नाम पर बच्ची के शौच को जांच के लिए कोलकाता भेज दिया गया| 29 फरवरी को तबीयत खराब होने पर परिवार वालों ने इलाज कराया था|उसके बाद से शौच की जांच करने भेजने के बाद इस मामले में कुछ नहीं किया गया है| घर पर ही मालिश से इलाज करने की कोशिश की जा रही है|
स्वास्थ्य महकमा के वरीय अधिकारी भी मानते है कि पोलियों मुक्त होने के बाद भी एक लाख में तीन बच्चे पोलियों से ग्रसित हो सकते है। लेकिन जांच के लिए शौच भेजकर अपने कर्तव्य से मुक्त हो गये ये लोग.। और अब लकवा के प्रकार गिनाते है...। डॉं.श्यामचन्द्र झा,सिविल सर्जन,कटिहार
करोडों रुपये खर्चकर देश को पोलियों मुक्त बनाने की कवायद सालों से चल रही है|ऐसे में अगर कोई विकंलागता से ग्रसित बच्चा मिलता है तो स्वास्थ्य विभाग की उदासिनता क्यों रहती है|जिसपर विचार करने और पीडित बच्ची को समुचित इलाज की जरुरत
Share this page
New Technique for Kala-azar preventionNew Technique for Kala-azar prevention

कटिहार में कालाजार रोकने के लिए आएगी नयी तकनीक

कटिहार में कालाजार को रोकने के लिए जिला मलेरिया पदाधिकारी की अध्यक्षता में एक बैठक का आयोजन किया गया | बैठक में कालाजार के नियंत्रण के लिए नए तरीके से विशेष दवा के छिडकाव का फैसला लिया गया | अब ddt की जगह सिंथेटिक पायरेथ्रोईडस का इस्तेमाल किया जायेगा | छिडकाव के लिए स्टीप पंप के बदले कंप्रेसर पंप का उपयोग किया जायेगा |[caption id="attachment_1770" align="alignright" width="300"]New Technique for Kala-azar preventionNew Technique for Kala-azar prevention New Technique for Kala-azar prevention[/caption] कटिहार जिले के सभी १६ प्रखंड के १४४ पंचायतो के ३६७ गांवों में इस दवा का छिडकाव करने की योजना है |इस अभियान में १४ हज़ार ६७० किलोग्राम सिंथेटिक पायरेथ्रोईडस का छिडकाव किया जाना है
Share this page
Blood Donation camp katihar by satchitanand Yoga center and Red Cross

कटिहार में रक्तदान शिविर का सफल आयोजन सतचितानंद योग केंद्र एवं रेड क्रॉस द्वारा

कटिहार :रविवार,२८फरवरी २०१६ को थेलेसिमिया से पीड़ित लोगो के लिए एक रक्तदान शिविर का सफल आयोजन किया गया |मुक्य रूप से सच्चितानंद योग सेंटर कटिहार और रेड क्रॉस कटिहार शाखा द्वारा इस रक्तदान शिविर में लोगो ने बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया|
करीब ३२ लोगो ने यहाँ रक्तदान कर के इस आयोजन को सफल बनाया |
कई लोगो ने आज पहली बार रक्तदान किया|पहली बार रक्तदान करने वाले लोग ज्यादा उत्साहित नज़र आये|इस शिविर का आयोजन सतचितानंद योग केंद्र ,डी एस कॉलेज रोड कटिहार में किया गया था | View pictures
Share this page
khasra Sameli Katihar

कटिहार के समेली में खसरा का मंडरा रहा खतरा

कटिहार के समेली प्रखण्ड के मलहरिया पंचायत के तीन गाँव में खसरा ने अपना पाँव पसार दिया है जिससे पुरे गाँव में दहशत का माहोल है ,इस गाँव में नजदीकी स्वास्थ केन्द्र में इसके इलाज के लिए दवाई मयस्सर नही है है ,लोग झार फुक का सहारा ले रहे हैं वहीँ कटिहार के सिविल सर्जन ने मामले को गम्भीरता से लेते हुए जल्द दवाई उपलब्ध कराने की बात कही है एक रिपोर्ट। ये तस्वीर कटिहार के समेली प्रखंड के मलहरिया पंचायत के बखरी गाँव ,नयाटोला ,बालू टोला की है जो इलाका इन दिनों खसरा की चपेट में है और लोग इस बीमारी से दहत में हैं ,इन तीनो गाँव में लगभग 400 से अधिक लोग खसरा से पीड़ित है और लोगो के बीच इस बीमारी को लेकर दहसत का माहोल है ,पीड़ित इलाज के लिए अस्पतालों के भी चक्कर लगा रहे हैं ताकि बेहतर इलाज हो सके लेकिन अस्पताल में इस रोग ने निपटने के लिए कोई दवाई उपलब्ध नही है जिससे लोगो में मायूसी है और झारफुक के सहारे इस रोग पर काबू पाने की जद्दोजहद कर रहे हैं। [caption id="attachment_1620" align="alignright" width="300"]khasra Sameli Katihar khasra Sameli Katihar[/caption] वहीँ गाँव के पीड़ित महिला कहती है की इसकी जानकारी स्वास्थ विभाग को भी दी गयी की गाँव में बड़े,बूढ़े और बच्चे इस बीमारी की चपेट में हैं लेकिन एक माह गुजर जाने के बाद भी अब तक स्वास्थ विभाग से ना कोई टीम जांच के लिए आया और ना ही कोई डॉक्टर ही बेहतर इलाज के लिए देखने पहुंचा है ,जिससे सभी डरे हुए हैं ,और कैसे इस बीमारी से छुटकारा मिले इसके लिए तरह तरह के घरेलु उपचार का सहारा ले रहे हैं। इस गाँव में खसरा के प्रकोप की जानकारी जब मीडिया ने कटिहार के सदर अस्पताल के सिविल सर्जन को दिया तो उन्होंने कहा की दवाई उपलब्ध नही होने के वजह से थोड़ी दिक्ततें हो रही हैं ,इसकी सुचना वहां के प्रभारी को दी जा चुकी है जल्द ही इसपर काबू पा लिया जाएगा। महीनो बीत जाने के बाद भी स्वास्थ विभाग इस बीमारी की रोक थाम में कोई कदम नही उठाया जिस कारण आज पूरा गाँव खसरे की चपेट में है बच्चे ,बूढ़े ,महिलाएं इस बीमारी से ग्रषित हैं ऐसे में ये सवाल उठना लाजिमी है की आखिर स्वास्थ विभाग के दावे और सुशासन द्वारा इलाज के बेहतर दावे की असली हकीकत किया है ,ये तस्वीर साफ़ साफ़ जाहिर कर रहा है ,और लोग इस आधुनिक युग में मेडिकल साइंस की लापरवाही की वजह से झार फुक का सहारा ले रहे हैं
Share this page
Red Cross Katihar

Katihar News| RED CROSS कटिहार द्वारा मुफ्त स्वास्थ्य शिविर 8 जनवरी को

रेड क्रॉस कटिहार ने 8 जनवरी २०१६ को फ्री बोन मिनरल डेंसिटी चेक कैंप का आयोजन किया है| ये कैंप कल सुबह नौ बजे से कटिहार के होटल सत्कार में आयोजित किया गया है |इस शिविर में डॉ अनिल द्विवेदी BMD मशीन द्वारा मुफ्त में हड्डियों की जांच करेंगे |
Red Cross is going to organize Free Bone Mineral Density Check up Camp at 9 am on 8.1.16 at Hotel Satkar.Get your bones checked by BMD machine . Dr ANIL Dwiwedi will provide free consultation.
[caption id="attachment_1018" align="alignright" width="720"]Red Cross Katihar Red Cross Katihar[/caption]
Share this page
Sadar Hospital Katihar

Katihar News | Sadar Hospital से डॉक्टर नदारद | मरीजों की भीड़ करती है इंतज़ार

कटिहार में दिनांक 17 दिसंबर को सदर अस्पताल में रोगी इंतजार करते रहे परंतु डॉक्टर लापता थे। सदर अस्पताल में कल संध्या काल में opd सेवा के क्रम में चार नंबर कक्ष में डॉक्टर के नहीं रहने से रोगियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। लोगों का कहना था कि लगातार डॉक्टर इस प्रकार से पूर्व सूचना घोषित किए बिना लापता रहते हैं जिससे रोगियों को काफी परेशानी होती है। [caption id="attachment_157" align="alignright" width="150"]Sadar Hospital Katihar Sadar Hospital Katihar [/caption]
उन्होंने कहा कि 4 नंबर वार्ड में वह डॉक्टर का इंतजार कर रहे थे परंतु शाम से रात हो गई एक भी डॉक्टर उन्हें देखने नहीं आए। तंग हो कर वे 1 नंबर कक्ष में जाकर बैठ गए। डॉक्टर के पास पहुंचे तो उनके द्वारा कक्ष संख्या 4 के सामने बैठकर डॉक्टर के इंतजार करने की बात कही गई। शाम 6 बजे तक डॉक्टर के नहीं आने पर उन्होंने अपना धैर्य खो दिया। वार्ड संख्या 4 के सामने डॉक्टर दिखाने के लिए अपने बच्चों के साथ खड़ी और अरघड़ा चौक की शबनम खातून ने कहा कि 3 बजे से डॉक्टर के आने का इंतजार कर रहे हैं। परन्तु 6 बजे तक एक भी डॉक्टर नहीं आए हैं।
अपने बच्चों को किस डॉक्टर को दिखाना है समझ में नहीं आ रहा है। लोगों का यह भी कहना था कि चार बजे डॉक्टर आएंगे इसलिए opd की संख्या 4 के सामने खड़े हैं लेकिन डॉक्टर नहीं आए। opd के चार्ज में सदर अस्पताल की कुल व्यवस्था का आलम ऐसा देखा गया कि डॉ डी एन रॉय जो सदर अस्पताल में बतौर बाल रोग विशेषज्ञ तैनात है। गुरुवार को उन्हें अस्पताल प्रबंधन की ओर से आपातकालीन सेवा सर्जिकल opd सेवा तथा बाल रोग spd सेवा के लिए तैनात किया गया था 1 नंबर कक्ष में एक डॉक्टर तैनात थे जिनके पास 30 से अधिक लोग इलाज के लिए खड़े थे।
Share this page
Skip to toolbar