Category: Gerabari

Priti Chaudhary Katihar

katihar News |प्रिति हत्याकांड में आरेापी मनोज ऋिषी ने कटिहार न्यायालय में किया आत्मसमर्पण

कोढ़ा : प्रिति हत्याकांड के मुख्य आरेापी मनोज ऋिषी ने कटिहार न्यायालय में आत्मसमर्पण कर दिया है ।गेढ़ाबाढ़ी के एक व्यवसायी बिनोद चौधरी की हत्या होने के बाद उनकी पत्नी प्रिति चौधरी की भी संधिग्ध तरीके से हत्या कर दी गयी थी|[caption id="attachment_1137" align="alignright" width="300"]Priti Chaudhary Katihar Priti Chaudhary Katihar[/caption]
जुलाई २०१५ में हुई प्रिति कि हत्या के पिछे कोढ़ा प्रखंड प्रमुख मनोज ऋिषी का नाम सामने आ रहा था। मनोज ऋिषी हत्या के बाद से ही गायब थे| पुलिस लगातार उनकी तलाश में जुटी थी लेकिन मनोज का पता लगाने में असमर्थ साबित हुई थी |
1 फरवरी २०१६ को मनोज ऋिषी ने कटिहार न्यायलय में CGM कोर्ट में आत्मसर्पण कर दिया।
Share this page

Katihar News |कटिहार में पुलिस को सफलता| अपराधी हुए गिरफ्तार

पोठिया क्षेत्र के डूमर स्थ्ति पेट्रोल पंप के लूट की घटना को अंजाम देने से पहले ही अपराधी धरे गए| आरोपियों में से सात पूर्णिया के और एक अररिया का है| कटिहार एस पी सिद्धार्थ मोहन जैन क्ले अनुसार गुप्त सूचना के आधार पर इन अपराधियों को एस दी पि ओ लाल बाबु की अगुआई में गठित टीम ने गुंडों को धर दबोचने में सफलता पी|katihar-loot जानकारी के अनुसार एच् पी पेट्रोल पंप के मेनेजर स्टेट बैंक में पैसा जमा करने जा रहे थे| इसकी सूचना अपराधियों को थी| एक गुप्त सूचना पर हरकत में आई पुलिस ने अपराध करने से पहले ही इन गुंडों को धर लिया| इनके पास से चार पिस्तौल एवं जिंदा कारतूस बरामद हुआ है| इन अपराधियों से एक इंडिका कार और एक रेसिंग बाइक बारामत किया गया| इस पूरे ऑपरेशन में सम्मिलित पुलिसकर्मियों को पुरस्कृत किया जायेगा|
Share this page
GedaBadi,Kodha,Katihar

गेडाबारी बाज़ार में बढ़ रहा अतिक्रमण

कटिहार के गेड़ाबड़ी बाजार का अतिक्रमण दिनों-दिन बढ़ता ही जा रहा है। अंचल पधाधिकारी द्वारा अतिक्रमण कारी दुकानदारों को अल्टीमेट दिये जाने क बावजूद कोई प्रभाव नहीं पड़ा । गेड़ाबाड़ी के स्थानीय दुकानदारों ने सरकारी जमीन एवं फूटपाथ के नालों पर दुकान लगाकर अतिक्रमित कर लिया है ।जिससे वहां के लोगों सहित राहगीरों को बहुत परेशानी का सामना करना पड़ रहा है ।

कुछ दिन पहले स्थानीय प्रशासनों के द्वारा 24 घंटे के अंदर अतिक्रमण हटाने का निर्देश भी दिया गया था ।प्रशासन ने यह भी कहा कि अगर वे लोग अपना दुकान नही हटाते हैं तो प्रशासनिक बल का प्रयोग करके हटाया जायेगा । बल्कि समय पूरा होने के बावजूद दुकानदारों ने दुकान नही हटाया । और न प्रशासन ने भी कुछ नही किया । वहीँ गेड़ाबाड़ी की दूसरी समस्या ऑटो चालक की मनमानी की भी है।ऑटो चालक अपने वाहनों को जहाँ तहाँ सड़क के किनारे खड़ी कर देते हैं । जिससे आम लोगों के साथ साथ वाहनों के आवागमन में बहुत कठिनाई होती है ।इन समस्याओं के समाधान के लिए स्थानीय लोगों ने प्रखंड प्रशासन से जल्द कारवाही करने की मांग की है ।।

Share this page
Skip to toolbar