Tagged: Sadar Hospital Katihar

stolen child in katihar recovered

कटिहार सदर अस्पताल से चोरी हुआ बच्चा बरामद

कटिहार अस्पताल प्रबधन के ऊपर कई तरह के लापरवाही के आरोप लगते रहते है पर आज सदर अस्पताल के प्रसव वार्ड से बच्चा चोरी की घटना को लेकर दिन भर शहर में हाई वोल्टेज ड्रामा चलता रहा अस्पताल प्रशासन और पुलिस प्रशासन के द्वारा हालांकि पुलिस की तत्परता से बच्चे को सकुशल बरामद कर लिया गया साथ ही तीन लोगो को भी गिरफ्तार किया गया है लेकिन इस घटना से वाद सबको हेरत मै डाल दिया है । साथ ही इस घटना ने सदर अस्पताल प्रबंधन को भी कठघरे में खड़ा कर दिया है। [caption id="attachment_3137" align="aligncenter" width="300"]stolen child in katihar recovered stolen child in katihar recovered [/caption] कटिहार सदर अस्पताल आइएसओ से मान्यता प्राप्त अस्पतालों की श्रेणी में शामिल है लेकिन यहां की व्यवस्था पूरी तरह लचर है।सदर अस्पताल से बच्चे की चोरी की घटना का तार सदर अस्पताल से जुड़ा हुआ है। चोरी की घटना कीे आरोपी बेबी देवी अक्सर प्रसव पीड़िता के साथ अस्पताल आती थी। यहां कई कर्मियों से उनकी अच्छी जान-पहचान हो गयी थी। इसका लाभ उठाकर ही उसने सहजता से घटना को अंजाम दे दिया। ऐसे में अस्पताल के कुछ कर्मी भी जांच के दायरे में आ गये हैं। बेबी देबी के एक माँ है एक माँ के कलेजे के टुकड़े को पेसे के खातिर सोदा बच्चा का करना इशारा करता है इंशानियत मार गयी है | चोरी के जुर्म मै पुलिस की गिरफ्त मै आई बेबी देबी की माने तो रंजीत ने बच्चा ला के दिया था रंजित के साथ भी एक महिला थी बच्चा रखने के इवज मै दस हजार रूपये देने की बात कही थी | अस्पताल में बड़ी संख्या में मरीज प्रतिदिन इलाज के लिए पहुंचते हैं लेकिन अस्पताल के प्रसव वार्ड में प्रसूता से इलाज के नाम पर पैसे की उगाही एवं बिचौलियों की सक्रियता की बात आम हो चुकी है। अस्पताल के प्रसव वार्ड में अक्सर विवाद होता है। यहां कार्यरत कर्मियों के तार निजी अस्पताल से जुड़े है और इस तरह के मामलों का कई बार खुलासा भी हो चुका है सुरक्षा के लिहाज से आवश्यक सीसीटीवी कैमरे की व्यवस्था भी दुरूस्त नहीं है। अगर किसी कोने में कैमरा लगा हुआ है तो देखरेख के अभाव में वह भी बेकार पड़ा हुआ है। दरअसल अस्पताल के प्रसव वार्ड में प्रसूता से इलाज के नाम पर पैसे की उगाही एवं बिचौलियों की सक्रियता की बात आम हो चुकी है। -Kumar Neeraj
Share this page

Katihar|आखिर हो गयी कटिहार के अनोखे फेकू की अनोखी शादी |

कटिहार में एक अनोखी शादी देखने को मिली,इस शादी में दूल्हे का किसी से कोई रिश्ता नही था फिर भी सभी लोग रिस्तेदार की तरह जश्न मनाते और जमकर नाचते नजर आये |वो भी नाचने वाले कोई आम आदमी नही थे बल्कि कटिहार सदर अस्पताल के सभी अस्पताल कर्मी और स्टाफ थे डीजे की धूम पर ये नाचते गाते सदर अस्पताल के स्टाफ हैं,जो इस दूल्हा और दुल्हन के कोई सगे रिस्तेदार भी नही हैं,फिर भी रिस्तेदार की तरह मौज मस्ती करते नजर आ रहे हैं |[caption id="attachment_1111" align="alignright" width="300"]Feku 's marriage Feku 's marriage [/caption]
या यूँ कहा जाए की दूल्हे से अस्पताल कर्मियोंं के दिल का रिस्ता कहा जाए तो काम नही होगा |अब आप सोच रहे होंगे की आखिर वो दिल का रिश्ता किया है फूलो का सेहरा पहने दूल्हा बना फेकू है जिसे 20 साल पहले किसी अनजान ने कटिहार के सदर अस्पताल की चबूतरे पर बेसहारा बेजुबान मासूम को छोर दिया |वो कहते हैं ना _जिसका कोई नही होता उसका खुदा होता है ,उसी तरह कटिहार सदर अस्पताल के स्टाफ रमेश महतो उर्फ़ फागो ने इस बेजुबान को अस्पताल के चबूतरे से उठाकर अपने सीने से लगा लिया और सभी अस्पताल कर्मी स्टाफ नर्श इस बेजुबान मासूम का सहारा बनकर खड़े हो गए |
अस्पताल के सभी लोगो ने इसे अपनाकर पालने की जिम्मेदारी उठा ली फेका हुवा बच्चा मिलने के कारन इसका नाम सभी ने फेकू रख दिया और इसी फेकू की सारी जिम्मेदारी अब उनकी हो चुकी थी और अब वो बड़ा हो गया ,और उसकी शादी है और ऐसे दिल के रिश्ते को निभाने वाले की ख़ुशी में चार चाँद तो लगना है ही.ऐसे में माँ सरस्वती देबी जो रमेश महतो की पत्नी है जिसने इसे माँ की तरह पालन पोषण किया वो कहती हैं वो इस फेकू को अपने सगे बेटे बेटियों की तरह ही देख भाल की हैं और आज उसकी शादी है इससे बड़ी ख़ुशी उसके लिए और किया होगी। इस शादी को देखकर यूँ कहा जा सकता है की आज के समाज में जहाँ कोई किसी को अपनाना नही चाहता ऐसे में इतने साल तक पुरे अस्पताल ने दिल के रिश्ते निभाए और निभाते रहने की बात कह रहे हैं वाकई किसी बड़े उदाहरण से काम नही ,और समाज में एक दूसरे को प्यार का पैगाम भी दे रहा है।
Share this page
Sadar Hospital Katihar

Katihar News | Sadar Hospital से डॉक्टर नदारद | मरीजों की भीड़ करती है इंतज़ार

कटिहार में दिनांक 17 दिसंबर को सदर अस्पताल में रोगी इंतजार करते रहे परंतु डॉक्टर लापता थे। सदर अस्पताल में कल संध्या काल में opd सेवा के क्रम में चार नंबर कक्ष में डॉक्टर के नहीं रहने से रोगियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। लोगों का कहना था कि लगातार डॉक्टर इस प्रकार से पूर्व सूचना घोषित किए बिना लापता रहते हैं जिससे रोगियों को काफी परेशानी होती है। [caption id="attachment_157" align="alignright" width="150"]Sadar Hospital Katihar Sadar Hospital Katihar [/caption]
उन्होंने कहा कि 4 नंबर वार्ड में वह डॉक्टर का इंतजार कर रहे थे परंतु शाम से रात हो गई एक भी डॉक्टर उन्हें देखने नहीं आए। तंग हो कर वे 1 नंबर कक्ष में जाकर बैठ गए। डॉक्टर के पास पहुंचे तो उनके द्वारा कक्ष संख्या 4 के सामने बैठकर डॉक्टर के इंतजार करने की बात कही गई। शाम 6 बजे तक डॉक्टर के नहीं आने पर उन्होंने अपना धैर्य खो दिया। वार्ड संख्या 4 के सामने डॉक्टर दिखाने के लिए अपने बच्चों के साथ खड़ी और अरघड़ा चौक की शबनम खातून ने कहा कि 3 बजे से डॉक्टर के आने का इंतजार कर रहे हैं। परन्तु 6 बजे तक एक भी डॉक्टर नहीं आए हैं।
अपने बच्चों को किस डॉक्टर को दिखाना है समझ में नहीं आ रहा है। लोगों का यह भी कहना था कि चार बजे डॉक्टर आएंगे इसलिए opd की संख्या 4 के सामने खड़े हैं लेकिन डॉक्टर नहीं आए। opd के चार्ज में सदर अस्पताल की कुल व्यवस्था का आलम ऐसा देखा गया कि डॉ डी एन रॉय जो सदर अस्पताल में बतौर बाल रोग विशेषज्ञ तैनात है। गुरुवार को उन्हें अस्पताल प्रबंधन की ओर से आपातकालीन सेवा सर्जिकल opd सेवा तथा बाल रोग spd सेवा के लिए तैनात किया गया था 1 नंबर कक्ष में एक डॉक्टर तैनात थे जिनके पास 30 से अधिक लोग इलाज के लिए खड़े थे।
Share this page
Sadar Hospital Katihar

Katihar Sadar Hospital X-ray कर्मियों ने की अनिश्चितकालीन हड़ताल

कटिहार के सदर अस्पताल में बीते कुछ दिनों से एक्स-रे कर्मी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं तथा जिससे मरीजों को काफी परेशानियां झेलनी पड़ रही है। ज्ञात हो की लगतार 3 वर्षों से एक्स-रे कर्मियों को वेतन का भुगतान नही किया गया है। कर्मियों ने कई बार अपने वरिष्ठ अधिकारियों से भी इस सम्बन्ध में अनुरोध किया। लेकिन विभाग की ओर से किसी प्रकार की कार्यवाही नहीँ की गयी है। [caption id="attachment_157" align="alignright" width="300"]Sadar Hospital Katihar Sadar Hospital Katihar[/caption] लगातार बढ़ रही समस्या को लेकर एक्स-रे कर्मी उपसंवेदक अवधेश गिरी के नेतृत्व में अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं तथा एक्स-रे कार्य ठप्प पड़ा हुआ है। परिणामस्वरूप मरीजों को काफी परेशानी हो रही है। वहीँ कर्मियों ने मानदेय न मिलने पर आंदोलन करने की भी बात कही है। इसमें मिथुन कुमार , नवाब आलम , मनु कुमार सहित अन्य कर्मी भी उपस्थित थे।
Share this page
Skip to toolbar